एकादशी कब है मई 2024 gyaras kab hai

Rate this post

इस पोस्ट में हम जानेंगे की gyaras kab hai may 2024 में । भारतीय कलेंडर के अनुसार माह का ग्यारहवाँ दिन ग्यारस यानि एकादशी कहलाता है। हिन्दू पंचाग में हर तिथि दो बार आती है। एक कृष्ण पक्ष में और एक शुक्ल पक्ष में। इस साल 2024 में पहली एकादशी सफला एकादशी आएगी और दूसरी एकादशी पौष पुत्रदा एकादशी । तो आइए पढ़ते हैं gyaras kab hai

एकादशी कब है मई 2024 gyaras kab hai

मई 2024 में वरुथिनी एकादशी और मोहिनी एकादशी आएंगी। इन एकादशी के आरंभ और अंत होने का समय नीचे दी गई सारणी में दिया गया है।

कृष्ण पक्ष की ग्यारस ( वरुथिनी एकादशी )

नीचे दी गई सारणी में इस महीने की कृष्ण पक्ष की एकादशी की तारीख, वार पारण का समय भी बताया गया है। इस सारणी से आप आसानी से पता लगा सकते हैं की एकादशी कब है मई महीने में ।

हिन्दू माहबैशाख माह
ग्यारस तिथि 04 मई 2024 , शनिवार
तिथि आरंभ 03 मई 2024 को 11:24 pm से
तिथि अंत 04 मई 2024 को 8:39 pm तक
पारण का समय5 मई 2024 05:37 AM से 10:04 AM

यह भी पढे :- षटतिला एकादशी व्रत कथा 2024.

शुक्ल पक्ष की ग्यारस ( मोहिनी एकादशी )

नीचे दी गई सारणी में इस महीने की शुक्ल पक्ष की एकादशी की तारीख, वार पारण का समय भी बताया गया है। इस सारणी से आप आसानी से पता लगा सकते हैं की इस महीने gyaras kab hai

हिन्दू माहबैशाख माह
ग्यारस तिथि 19 मई 2024 , रविवार
तिथि आरंभ 18 मई 2024 को 11:23 am से
तिथि अंत 19 मई 2024 को 1:50 pm तक
पारण का समय20 मई 2024 05:27 AM से 08:11 am

यह भी पढे :- ग्यारस यानि एकादशी व्रत के नियम ।

यह भी पढे :- 2024 में सम्पूर्ण पूर्णिमा कैलंडर हिन्दी।

यह भी पढे :- 2024 में सम्पूर्ण अमावस्या कैलंडर हिन्दी।

अन्य महत्वपूर्ण तिथि

कृष्ण पक्ष की ग्यारस कब है

मई 2024 में फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी ( ग्यारस ) 04 मई 2024 , शनिवार के दिन आएगी। यह एकादशी वरुथिनी एकादशी कहलाती है।

यह भी पढे :- प्रदोष व्रत 2024 पंचांग इन हिन्दी

शुक्ल पक्ष की ग्यारस कब है

मई 2024 में चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी ( ग्यारस ) 19 मई 2024 , रविवार के दिन आएगी। यह एकादशी मोहिनी एकादशी कहलाती है

यह भी पढे :- पंचक तिथि कब कब है 2024 में ?

यह भी पढे :- सत्यनारायण व्रत 2024 कैलंडर ।

ग्यारस के दिन किसकी पूजा करनी चाहिए?

ग्यारस के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है।

चेतावनी इस artical में दी गई किसी भी जानकारी की सत्यता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। यह जानकारी लेखक द्वारा विभिन्न माध्यमों से एकत्रित कर पाठकों तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।

Leave a Comment

]